UP शिक्षक ट्रांसफर के लिए ऐसे करें अप्लाई

UP Teacher Transfer 2020: बेसिक शिक्षा विभाग, उत्तर प्रदेश (Basic Education Department, Government of Uttar Pradesh) इलाहाबाद ने प्राइमरी और जूनियर लेवल के संचालित विद्यालयों के अध्यापकों के शैक्षिक सत्र 2019- 20 हेतु अंतर्जनपदीय स्थानांतरण की ऑनलाइन प्रणाली शुरू कर दी है। इच्छुक उम्मीदवार बेसिक शिक्षा विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://upbasiceduparishad.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 20 जनवरी 2020 शाम 6 बजे तक स्वीकार किए जाएंगे। इस प्रक्रिया से यूपी के तकरीबन 43000 शिक्षकों को फायदा होगा। आवेदक अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक नोटिफिकेशन को ध्यान से जरूर पढ़ें।

शिक्षकों के ट्रांसफर की इस प्रक्रिया में कुल 75 जनपद के स्कूल शामिल हैं, जिनमें ATPS (सहायक अध्यापक प्राथमिक विद्यालय) में 27643, HMPS (प्रधानाध्यापक प्राथमिक विद्यालय)- 453, ATUPS (सहायक अध्यापक उच्च प्राथमिक विद्यालय)-14014 और HMUPS (प्रधानाध्यापक उच्च प्राथमिक विद्यालय) के स्कूलों में 816 सीटें हैं यानी कुल सीटों की संख्यां 42926 है। ट्रांसफर के लिए प्राइमरी टीचर और अपर प्राइमरी टीचर के पद पर पहले से कार्यरत टीचर आवेदन कर सकते हैं।

अंतर्जनपदीय स्थानांतरण के लिए ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

  • चरण 1 : ट्रांसफर के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म देखने के लिए इस लिंक https://upbasiceduparishad.gov.in/Registration.aspx पर विजिट करें।
  • चरण 2 : अपना वर्तमान जिला दर्ज करें।
  • चरण 3 : अपना क्षेत्र (ग्रामीण / शहरी) दर्ज करें।
  • चरण 4: आपका स्कूल ब्लॉक चुनें।
  • चरण 5 : अपने स्कूल का नाम चुनें।
  • चरण 6 : अपना वेतन बैंक खाता संख्या दर्ज करें।
  • चरण 7 : अपना पैन कार्ड नंबर दर्ज करें।
  • चरण 8 : अपना आधार कार्ड डालें।
  • चरण 9 : अपनी ज्वाइनिंग डेट डालें।
  • चरण 10 : प्राथमिकता स्थानांतरण स्कूल का नाम चुनें।

UP Teacher Transfer 2020

बता दें कि योगी सरकार ने हाल ही में शिक्षकों के ट्रांसफर पॉलिसी में बड़ा बदलाव किया था। नई पॉलिसी के मुताबिक, बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षकों के ट्रांसफर के लिए 5 साल की समय सीमा को घटाकर 3 साल कर दिया था। सरकार ने महिलाओं को बड़ी राहत दी है, उनके लिए तबादले की समय सीमा को सिर्फ 1 साल कर दिया। वहीं सरकार ने फौजियों की पत्नियों को ट्रांसफर में प्राथमिकता देना निश्चित किया है। इसके अलावा गंभीर रोग से पीड़ित शिक्षकों को भी तबादले में सुविधा दी जाएगी।

By JobSeva

Leave a Reply

Your email address will not be published.