Bachelor of Architecture (B.Arch) admission criteria changed

hum bachelor of architecture karke kya ban sakta hai?

This year a big relaxation has been given in the rules of admission in B.Arch  courses. Union Education Minister Dr. Ramesh Pokhriyal Nishank gave a tweet in this regard. After the IITs, NITs and centrally aided engineering colleges, the rules for admission to B.Arch courses have also been changed.The selection will be on the basis of the National Aptitude Test in Architecture (NATA) or Joint Entrance Exam (JEE) Main paper 2 – the national level entrance exams for admission to undergraduate architecture courses. Check below information:

What exam should I attend to get admission in B Arch after attending the JEE Paper 2 exam?
The Examination details like to get BArch admission are given  below. Read all instructions carefully & apply for related Collages.

12वीं में पास छात्र इस बार ले सकेंगे बीआर्क कोर्सेज में दाखिला

अगर आप इस बार बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर कोर्सेस में एडमिशन लेने की तैयारी में हैं, तो ये जरूर पढ़िए । इस साल बीआर्क कोर्सेस में एडमिशन के नियमों में बड़ी छूट दी गई है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने इस संबंध में ट्वीट कर जानकारी दी। आईआईटी, एनआईटी व केंद्रीय सहायता प्राप्त इंजीनियरिंग कॉलेजों के बाद अब बीआर्क कोर्सेस में एडमिशन के नियम भी बदले गए हैं।

कुछ दिन पहले केंद्रीय मंत्री ने आईआईटी (IIT), एनआईटी (NIT) व अन्य केंद्रीय सहायता प्राप्त इंजीनियरिंग संस्थानों (CFTI) में एडमिशन के लिए भी 12वीं के न्यूनतम अंकों की अनिवार्यता खत्म की थी। अब वही फैसला बीआर्क के लिए भी लिया गया है। ये छूट स्टूडेंट्स को 12वीं कक्षा के अंकों के मामले में दी गई है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री निशंक ने बताया है कि ‘जिन स्टूडेंट्स ने 12वीं की परीक्षा फीजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स (PCM) के साथ पास की है या 10+3 स्कीम में मैथ्स के साथ डिप्लोमा किया है, वे सभी सत्र 2020-21 में बीआर्क कोर्सेस में एडमिशन पाने के योग्य हैं।’

जाहिर है कि इस साल इस कोर्स में एडमिशन के लिए 12वीं की परीक्षा में न्यूनतम क्वालिफाइंग मार्क्स की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है। हालांकि 12वीं में पास होना जरूरी है।

किस आधार पर होंगे एडमिशन
इस शैक्षणिक सत्र के लिए जेईई मेन 2020 (JEE Main 2020) पेपर-2 और नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट फॉर आर्किटेक्चर (NATA 2020) में प्राप्त स्कोर के आधार पर एडमिशन दिए जाएंगे।

इस वजह से मिली छूट
देश में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर कई स्कूल बोर्ड्स परीक्षाएं पूरी नहीं करा पाए। किसी ने पूरी परीक्षा के आधार पर, तो किसी ने इंटरनल असेसमेंट के आधार पर रिजल्ट तैयार किए। ऐसे में सभी स्टूडेंट्स को बराबर अवसर देने के लिहाज से केंद्र ने इस साल के लिए यह फैसला किया है।

NATA: कब होगी परीक्षा? 

देश के विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों में बैचलर ऑफ आर्किटेक्चर कोर्सेस में एडमिशन के लिए नेशनल एप्टीट्यूट टेस्ट इन आर्किटेक्चर (NATA) का आयोजन किया जाता है। काउंसिल ऑफ आर्किटेक्चर (CoA) द्वारा ये परीक्षा आयोजित की जाती है। इस साल के लिए नाटा का आवेदन बंद हो चुका था। लेकिन काउंसिल ने इसे दोबारा शुरू करने का फैसला किया है। साथ ही इस परीक्षा की तारीखों की भी घोषणा कर दी है।

एक बार स्थगित होने के बाद फिलहाल नाटा 2020 का आयोजन 29 अगस्त को किया जाना तय हुआ है। कोविड-19 के कारण सेक्शन ए व बी, दोनों परीक्षाएं ऑनलाइन ली जाएंगी। पहले इस परीक्षा में शामिल होने के लिए स्टूडेंट्स को 12वीं में फीजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ्स में कम से कम 50 फीसदी अंक लाना अनिवार्य था। इस साल इसकी जरूरत नहीं है।

इसे भी पढ़िए NEP: TET, बीएड कोर्सेज और टीचर्स भर्ती प्रक्रिया में बदलाव, जानिए और क्या है टीचर्स के लिए एजुकेशन पॉलिसी में

By JobSeva

Leave a Reply

Your email address will not be published.