आर्मी में कोई भी हो सकता है शामिल जानिए क्या है

टूर ऑफ ड्यूटी प्लान

आर्मी ने आम लोगों को ट्रेनिंग देने का प्लान तैयार किया है। भारतीय सेना एक ऐसे प्रस्ताव पर विचार कर रही है जिसमें युवाओं को तीन साल के लिए सेना में शामिल होने का मौका दिया जाएगा. इस प्रस्ताव का नाम ‘Tour Of Duty’  रखा गया है. अगर आप अपने देश की सेवा करना कहते है तो इंडियन आर्मी का ये प्लान आपके मन की इच्छा पूरी करने वाला है । ToD मॉडल पहले से चले आ रहे शॉर्ट सर्विस कमिशन जैसा होगा जिसके तहत वह युवाओं को 10 से 14 साल के आरंभिक कार्यकाल के लिए भर्ती करती है। अगर इस प्रपोजल को मंजूरी मिलती है तो सेना इसे लागू कर सकती है।

सेना के एक प्रवक्ता ने कहा, सेना आम नागरिकों को तीन साल की अवधि के लिए बल में शामिल करने के ‘टूर ऑफ ड्यूटी’ के प्रस्ताव पर विचार कर रही है। सेना प्रतिभाशाली युवाओं को आकर्षित करने के लिए अनेक प्रयास करती रहती है। योजना के जरिए वे युवा भी सेना में शामिल हो सकेंगे।

सबसे पहले आपको बता दें, अभी प्रस्ताव को लागू नहीं किया गया है. ये प्रस्ताव तीन वर्ष की शॉर्ट सर्विस स्कीम के तौर पर रखा जा रहा है. जो सेना को अपना स्थायी पेशा नहीं बनाना चाहते हैं उनके लिए ये मौका अच्छा साबित हो सकता है.

क्यों हुई  प्रस्ताव  की जरूरत

3 साल के दौरान सेना का मुख्य उद्देश्य लोगों को सैन्य जीवन का अनुभव कराना है, ताकि देश के 1.3 मिलियन जवान युवाओं को ट्रेनिंग और सेना के बारे में कई प्रकार की जानकारी दे सके. इस दौरान युवाओं को सैलरी दी जाएगी, लेकिन वह पेंशन के हकदार नहीं होंगे.
प्रस्ताव में कहा गया है- ‘यह ऐसे लोगों के लिए शानदार अवसर है जो पूरी जिंदगी के लिए सैन्य सेवाओं में नहीं जाना चाहते थे, लेकिन आर्मी लाइफ का अनुभव लेना उनका सपना होता है।’

कॉरपोरेट जगत में मौके

इसके अलावा टीओडी चुनकर तीन साल सेना में सेवाएं देने के बाद लोगों के लिए कॉर्पोरेट वर्ल्ड में भी नए अवसर खुलेंगे। प्राइवेट कंपनियां सिक्योरिटी सर्विसेज में सामान्य ग्रेजुएट्स की बजाय उन लोगों को अच्छी सैलरी वाली नौकरियां देती हैं जो आर्मी से ट्रेंड होते हैं।
 

By JobSeva

Leave a Reply

Your email address will not be published.